अभिनेता बोमन ईरानी ने फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस से अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी. उनकी इस फिल्म में एक चीज़ जो लोगों के दिलों को छू गयी  वह है 'जादू की झप्पी '.  बोमन ईरानी का मानना इस  फिल्म के बाद लोगों का नजरिया बदलने लगा और वे बड़े ही प्यार से अब एक दूसरे को गले लगाते हुए नज़र आते हैं

बहुमुखी अभिनेता ने कहा, "बहुत सारे लोग   हग करने में खुद को असहज महसूस करते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि फिल्म  मुन्ना भाई एमबीबीएस ने 'जादू की झप्पी ' का सिलसिला शुरू किया  और अब  लोग मुझसे  एक सेल्फी या ऑटोग्राफ के बदले जादू की  झप्पी लेना ज़्यादा पसंद करते हैं और मेरा मानना है की हग के द्वारा हम लोगों के साथ कई  तरीकों से जुड़ते हैं.

हग डे के मौके पर, बोमन ईरानी ने अपने विचारों को साझा करते  हुए बताया कि  किसी को प्यार से गले लगाने का क्या मतलब है. उन्होंने कहा, "एक कारण है कि लोग परंपरागत रूप से गले मिलते हैं, जैसे वे हाथ मिलाते हैं. मेरा मानना  है कि , इसका कारण आपके दिलों को एक-दूसरे के करीब लाना है, एक-दूसरे की धड़कनों का  एहसास करना  और मुझे लगता है कि यह एक खूबसूरत एहसास है."