बॉलीवुड से लेकर साउथ इंडस्ट्री में अपनी अदाकारी का लोहा मनवा चुके, सुपरस्टार एक्टर रजनीकांत की फिल्म जब कभी रिलीज होती है दमदार बिजनेस करती है. जिसमें फिल्में से जुड़े प्रोड्यूसर्स से लेकर डिस्ट्रीब्यूटर्स तक को खूब फायदा होता है. 

खबर है कि रजनीकांत की फिल्म दरबार ने विश्वभर में 250 करोड़ की कमाई की है. इसके बावजूद फिल्म को 70 करोड़ का घाटा उठाना पड़ा है. इस फिल्म का बजट 200 करोड़ था जिसमें से आधा अमाउंट रजनीकांत की फीस थी. रिपोर्ट्स के अनुसार, डिस्ट्रीब्यूटर्स को इस फिल्म के चलते काफी नुकसान उठाना पड़ा है और इन लोगों ने रजनीकांत से मिलने की कोशिश भी की लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी. दरअसल फिल्म के डिस्ट्रीब्यूटर्स रजनीकांत के चेन्नई स्थित घर पहुंचे थे लेकिन उन्हें वहां मौजूद सिक्योरिटी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था.  

हिंदुस्तान टाइम्स से अपनी खास बातचीत में एक डिस्ट्रीब्यूटर ने कहा, पिछले हफ्ते हमने रजनीकांत सर से मिलने का फैसला किया था और हम उन्हें अपनी परेशानी समझाना चाहते थे. कई क्षेत्रों के डिस्ट्रीब्यूटर्स को काफी घाटा उठाना पड़ा है. जब हम उनके घर पहुंचे तो पुलिस ने उनके घर जाने से पहले ही हमें रोक लिया और हमें वापस जाने के लिए कहा. ये बेहद निराशाजनक है कि उन्होंने इस मुद्दे पर हमसे मिलना तक जरुरी नहीं समझा लेकिन हम भी हार नहीं मानेंगे और यही कारण है कि हम लोगों ने भूख हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. रजनी की फिल्म दरबार को क्रिटिक्स से भी कोई अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली थी, जिस वजह से फिल्म को भी काफी नुकसान हो गया. देखना होगा इस मामले में अब क्या हल निकलता है. रजनी इनकी मदद करते हैं या नहीं.