बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना इन दिनों अपनी अगली फिल्म 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान' के प्रमोशन में व्यस्त हैं. प्रमोशन के दौरान उन्होंने बताया कि हिंदी फिल्म जगत के कई लोगों ने पर्दे पर गे (समलैंगिक पुरुष) का किरदार निभाने के उनके फैसले पर उन्हें दोबारा सोचने को कहा था.


एक इंटरव्यू में आयुष्मान ने कहा, "मैं जो कुछ भी हूं, अपने परिवार की वजह से हूं. वे हमेशा मुझे अपना समर्थन देते रहे हैं और उन्हीं के चलते मैं अपनी जिंदगी के अहम फैसले ले पाया हूं. जब मैंने अभिनय में आने का फैसला लिया तो वे एक चट्टान की तरह मेरे साथ खड़े रहे."

आयुष्मान ने आगे कहा, "जब मैंने यह फैसला लिया कि मेरी फिल्में समाज की रूढ़िवादी सोच को तोड़ने वाली विषयों पर आधारित होंगी, तो उन्होंने इस पर भी मुझे अपना समर्थन दिया और इस पर लोग क्या कहेंगे, इस बारे में कभी भी न सोचने को कहा."

उन्होंने कहा, "शुभ मंगल ज्यादा सावधान' मेरी जिंदगी के सबसे अहम फैसलों में से एक है. इंडस्ट्री से कई सारे लोगों ने मुझे इस पर पुर्नविचार करने को कहा, क्योंकि किसी भी मुख्य हीरो ने पर्दे पर कभी भी समलैंगिक शख्स के किरदार को नहीं निभाया है, लेकिन मुझे पता था कि इस सोच को बदलने की जरूरत है और यही वह समय है. मुझे किसी तरह से बस यह पता था कि मुझे यह करना ही है और मैंने ऐसा करने का निश्चय किया."

आयुष्मान खुराना इन दिनों अपनी फिल्मों को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. आपको बता दें, एक्टर ने अबतक 14 फिल्में सुपरहिट दी हैं. जो अपने आप में एक कमाल की बात है.